सादे तरीके से मुंबई में हो रहा है गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन, कोरोना के चलते रौनक नदारद

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर बेहद साधारण तरीके से गणपति प्रतिमाओं का मंगलवार को विसर्जन किया गया। दस दिन तक चले गणपति उत्सव के समापन पर आयोजित कार्यक्रमों में इस बार पिछले वर्षों की तरह जुटने वाले भक्तों की भीड़ नदारद रही। 
'अनंत चतुर्दशी' के मौके पर प्रतिमा विसर्जन कार्यक्रम को सकुशल संपन्न कराने के लिए जहां बृहन्मुंबई महानगरपालिका ने विशेष इंतजाम किए हैं, वहीं शहर में 35,000 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। 
एक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार दोपहर तक गणेश की 492 प्रतिमा अलग-अलग विसर्जन स्थलों पर विसर्जित की गईं। इनमें से 16 सार्वजनिक पंडाल जबकि 476 घर में स्थापित की गई प्रतिमाएं थीं। 
अधिकारी ने बताया कि पुलिस विभाग की कई शाखाएं और सुरक्षा कर्मी सड़कों पर मुस्तैद हैं और करीब 5,000 सीसीटीवी कैमरों की मदद से विसर्जन प्रक्रिया पर करीब से नजर रख जा रही है। भीड़ से बचने के लिए पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वे विसर्जन स्थल के बदले अपने घरों में ही आरती करें। 

महाराष्ट्र में 30 सितंबर तक बढ़ा सामान्य लॉकडाउन, अब नहीं होगी ई-परमिट जरूरत



Category : Uncategorized

Read Also: