कोरोना के मद्देनजर CM योगी का निर्देश- होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से हो नियमित संवाद

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को निर्देश दिये कि घर पर पृथकवास (होम आइसोलेशन) में रह रहे मरीजों से नियमित संवाद हो और उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली जाए । योगी ने कहा, ”होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से नियमित संवाद स्थापित करते हुए उनके स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त की जाए और इस कार्य में सीएम हेल्पलाइन का भी उपयोग किया जाए। ”
उन्होंने कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, सर्विलांस तथा डोर-टू-डोर सर्वे कार्य को पूरी तेजी से संचालित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में एक दिन में कोविड-19 के एक लाख 48 हजार से अधिक टेस्ट किए जाने पर संतोष जताते हुए टेस्टिंग क्षमता को शीघ्र बढ़ाकर एक लाख 50 हजार टेस्ट प्रतिदिन करने का निर्देश दिया। योगी एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि कोविड प्रभावित लोगों को और बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए समस्त जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी दिन में दो बार नियमित रूप से बैठक करें। उन्होंने सााजिक मेल जोल से दूरी के नियमों के पालन के लिये मास्क के अनिवार्य उपयोग का पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसानों को खाद बिना दिक्कत के मिले और खाद की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए ।
उन्होंने कहा, ''समस्त मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी अपने-अपने जनपद के गो-आश्रय स्थलों का निरीक्षण करें । गोवंश के लिए चारे आदि की अच्छी व्यवस्था के साथ ही, उनके स्वास्थ्य का परीक्षण भी किया जाए । पशुपालन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा इस कार्य की निगरानी की जाए।''
योगी ने कहा कि बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों को प्रभावित लोगों के लिए राहत कार्य पूरी गति से संचालित किए जाएं। बाढ़ प्रभावितों को राशन किट उपलब्ध कराया जाए तथा उनके लिए चिकित्सा की समुचित व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने बाढ़ से फसलों को हुई क्षति का सर्वे कराकर सभी प्रभावितों को शीघ्र मुआवजा उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए।

भारत में पेमेंट सर्विस को शुरू करना चाहता है वॉट्सएप, BJP से प्लेटफार्म का है नेक्सस : राहुल गांधी



Category : Uncategorized

Read Also: