पिछड़े क्षेत्रों में ढांचागत विकास को प्राथमिकता देकर नक्सलियों की गतिविधियों को समाप्त करने में मिलेगी मदद : गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि महाराष्ट्र का गडचिरोली जिला अत्यंत पिछड़ा और नक्सल प्रभावित है इसलिए ऐसे क्षेत्रों में ढांचागत विकास उनकी प्राथमिकता है। 
गडकरी ने रविवार को महाराष्ट्र के गडचिरोली जिले में सड़क तथा पुलों के निर्माण की योजनाओ के आयोजित भूमि पूजन और उद्धघाटन के अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कहा कि यह क्षेत्र नक्सलियों की राजधानी माना जाता और इस तरह के इलाकों में ढांचागत विकास से जहा लोगो की सुविधाओं में सुधार होगा वही नक्सलियों की गतिविधियों को भी इन क्षेत्रों से समाप्त करने में मदद मिलेगी।
केंद्रीय मंत्रीं ने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि उन्होंने आज महाराष्ट्र के गडचिरोली जिले में विकास को नयी गति देने का  काम किया है वहा सड़क परियोजना एवं पुलों का लोकार्पण और शिलान्यास किया है। इस अवसर पर महाराष्ट्र के शहरी विकास और सार्वजनिक कार्य मंत्री एकनाथ शिंदे, सार्वजनिक बांधकाम मंत्री अशोक चव्हाण, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्यमंत्री जनरल वी के सिंह तथा स्थानीय सांसद अशोक नेते भी मौजूद थे।
उन्होंने कहा कि इन सभी परियोजनाओं पर लगभग 777 करोड़ लागत आने का अनुमान है। इस परियोजनाओं में 33 किलो मीटर लम्बी सड़क परियोजना एवं सात पुलों के निर्माण का काम शामिल है जिनसे गडचिरोली जिले के सामाजिक और आर्थिक विकास को गति मिलेगी और क्षेत्र की सुविधाओं में बहुत सुधार आएगी।

राहुल गांधी को कांग्रेस का नेतृत्व करने से रोकना, पार्टी के अस्तित्व को कर देगा नष्ट : संजय राउत



Category : Uncategorized

Read Also: